विश्व पर्यावरण दिवस पर निबंध | world environment day essay in hindi 2021

हेलो दोस्तों, आज हम इस लेख में हम विश्व पर्यावरण दिवस पर निबंध के बारे में पढ़ेंगे जो कि आपको क्लास 5,6,7,8,9,10,11,12 व अन्य कॉम्पिटेटिव एग्जाम जैसे कि SSC, UPSC मे अत्यंत लाभकारी होगा। विश्व पर्यावरण दिवस पर निबंध (world environment day essay 2021) के अंतर्गत हम पर्यावरण दिवस से संबंधित पूरी जानकारी को विस्तार में पढ़ेंगे इसलिए इसे अंत तक अवश्य पढ़ें।

पर्यावरण क्या हैं?

पर्यावरण दिवस के बारे में जानने से पहले हमें यह पता होना चाहिए कि पर्यावरण क्या है? तो दोस्तों, हमारे आस-पास पास जितनी भी चीजें मौजूद हैं, वह पर्यावरण का ही अंग है। हम मनुष्य, जानवर, पक्षी, पेड़-पौधे भी स्वयं पर्यावरण का ही अंग हैं।

शुद्ध भाषा में कहा जाए तो पर्यावरण पेड़-पौधे, जलवायु , मिट्टी, हवा, पानी जंगल, जमीन, नदियां व पहाड़ इन सब से ही मिलकर बना है और पर्यावरण सीधे-सीधे हमारे दैनिक जीवन से ताल्लुक रखता है। पर्यावरण में लगातार हो रहे बदलाव से मानव जीवन में भी समय-समय पर बदलाव देखने को मिलते हैं।

पर्यावरण खतरे में क्यों है?

पर्यावरण में लगातार बढ़ते प्रदूषण के कारण आज स्थिति बहुत ही दयनीय हो गई है। जहां भी देखो प्रदूषण का ही बोलबाला है इस प्रदूषण के कारण हमारी पृथ्वी का तापमान लगातार बढ़ता जा रहा है जिसकी वजह से ग्लेशियर लगातार पिघल रहे हैं और संकट का कारण बन रहे हैं।

world environment day essay in hindi 2021
world environment day 2021

लगातार किसी ना किसी कारणवश पेड़-पौधे काटे जा रहे हैं जिसकी वजह से हमारे पृथ्वी पर ऑक्सीजन की मात्रा बहुत कम हो चुकी है। वास्तव में यही वजह है कि शुद्ध पर्यावरण को इतने नुकसान पहुंचाने के बाद आज हम सभी मनुष्य को कोरोना काल में ऑक्सीजन की कमी के चलते जान गवानी पड़ रही है।

पर्यावरण को बचाना क्यों जरूरी है?

मानव के प्रकृति व पर्यावरण के प्रति दुर्व्यवहार जैसे कि गौ हत्या होना, मांस खाना, पेड़ों की कटाई, अस्वच्छता फैलाना, पेड़-पौधे ना लगाना, कचरा खुले में फेंकना, जल प्रदूषित करना, मना करने पर भी प्लास्टिक की चीजों का इस्तेमाल करते रहने से आज पर्यावरण पूरी तरह प्रदूषित हो चुका है। इन सब दुर्व्यवहारो का ही परिणाम है जंगल में आग लगना, ग्लेशियर पिघल ना, तरह-तरह की बीमारियां फैलना, वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ जाना व ज्वालामुखी विस्फोट होना।

हमें यह बिल्कुल भी नहीं भूलना चाहिए कि हम भी इस पर्यावरण का ही अंग है यदि पर्यावरण प्रदूषित होगा तो इसका असर हम पर सीधे-सीधे होगा और वह दिन दूर नहीं जब हम सबका जीवन समाप्त हो जाएगा इसलिए हमारे लिए पर्यावरण को बचाना बहुत ही ज्यादा जरूरी है अन्यथा इसका परिणाम अत्यन्त विनाशकारी होगा।

विश्व पर्यावरण दिवस पर निबंध

प्रस्तावना (Introduction)

दोस्तों, हमारे पर्यावरण पर बढ़ते प्रदूषण, ग्लोबल वार्मिंग व पर्यावरण के लगातार शोषण के कारण आज पूरी पृथ्वी समापन की ओर है।

पृथ्वी पर जहां देखो प्रदूषण का बोलबाला है। पर्यावरण प्रदूषण ने केवल मनुष्य को ही नहीं बल्कि पशु-पक्षी तक का जीवन बेहाल कर दिया है। आज इस बढ़ते प्रदूषण के चलते हर तरफ स्थिति ने गंभीर रूप ले लिया है।

पर्यावरण की रक्षा हेतु लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन प्रतिवर्ष 05 जून को UNEP (United Nations Education Program ) द्वारा किया जाता है। इस अवसर का आयोजन लोगों में पर्यावरण के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझाने व अपने कर्तव्य का पालन करने के लिए किया जाता है।

पर्यावरण दिवस की शुरुआत (Origin)

पर्यावरण दिवस की शुरुआत संयुक्त राष्ट्र सभा द्वारा सन् 1972 में किया गया था जिसमें वर्तमान में 100 से अधिक देश हिस्सा लेते हैं वह जन-जन तक इसकी जागरूकता और प्रोत्साहन फैलाते हैं।

पर्यावरण दिवस को हर साल मनाने का निश्चय सन् 1973 में किया गया था। प्रत्येक वर्ष पर्यावरण दिवस के लिए एक टीम चुनी जाती है और उसी के अनुरूप संयुक्त राष्ट्र सभा द्वारा कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। पहला पर्यावरण दिवस 5 जून 1973 को मनाया गया था।

इस सकारात्मक सार्वजनिक गतिविधियों वाले कार्यक्रम को सामान्यतः राजनीतिक ध्यान प्राप्त करने के लिए एक प्रभावी वार्षिक अभियान माना गया हैं।

विश्व पर्यावरण दिवस की थीम 2021 ( World Environment Day Theme 2021 in Hindi)

विश्व पर्यावरण दिवस के लिए प्रतिवर्ष एक थीम तैयार की जाती है और उसके मुताबिक ही कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। विश्व पर्यावरण दिवस की थीम 2021 के लिए ‘इकोसिस्टमरीस्टोरेशन (Ecosystem Restoration)’ हैं। इस चुनी गई टीम का अर्थ है पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली करना।

इकोसिस्टमरीस्टोरेशन कैसे संभव है? (Theme Achievement)

प्रतिदिन पेड़-पौधे लगाकर, बारिश के पानी को संरक्षित करके, नदियों को प्रदूषण मुक्त करके, साफ-सफाई रख कर, सरकार द्वारा पर्यावरण बचाव से संबंधित गाइडलाइन को फॉलो करके व प्रदूषण को अपने स्तर पर रोकने के प्रयास से हम अवश्य ही अपने इकोसिस्टम को दोबारा से Restore कर सकते हैं।

विश्व पर्यावरण दिवस पर हम क्या करते हैं?

विश्व पर्यावरण दिवस का मुख्य उद्देश्य पर्यावरण के शोषण को रोक कर एक स्वच्छ व  सफल पर्यावरण का निर्माण करना हैं। इसके लिए पर्यावरण दिवस के दिन लोग एकजुट होकर अपनी प्रमुख वातावरणीय समस्याओं को सुलझाने का संकल्प लेते हैं व पर्यावरण के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाते हैं और प्रोत्साहित करते हैं।

मारे आने वाले जीवन व भविष्य को खूबसूरत रंगों से भर देने के लिए इस पर्यावरण को साफ सुथरा होना बहुत जरूरी है। तो इसके लिए पूरी दुनिया भर के अंतरराष्ट्रीय संगठन साथ आते हैं व समस्याओं पर चर्चा करते हैं।

स्कूल, कॉलेज व कार्यालयों में भी पर्यावरण दिवस पर लोगों में पर्यावरण के प्रति जोश और उमंग भरने के लिए तरह तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। अत्यधिक पेड़ लगाने और साफ-सफाई जैसे सामान्य कार्य को लेकर लोगों को प्रोत्साहित किया जाता है।

विश्व पर्यावरण दिवस पर आयोजित की जाने वाली गतिविधियाँ

विश्व पर्यावरण दिवस पर अनेक प्रकार की गतिविधियां आयोजित की जाती हैं। इनमें  निबंध लेखन, भाषण, नाटक, पैराग्राफ लेखन प्रमुख है। स्कूलों में बच्चों को इस पर रोचक कर दिए जाते हैं जिनसे उनमें प्रकृति के प्रति चेतना बढ़े।

इसके साथ ही साथ पर्यावरण से संबंधित प्रतियोगिताएं, सड़क रैलियां, चित्रकला की प्रतियोगिताएं, रीसाइक्लिंग पहल पर्यावरण को कैसे बचाएं पर प्रश्न उत्तर के कार्यक्रम मुख्य रूप से आयोजित  किए जाते हैं।इसके अलावा अपने पर्यावरण को कैसे साफ सुथरा रखकर हम इसे और स्वस्थ बना सकते हैं इस पर न्यूज़ में बताया जाता है।

इस प्रकार हमारा ग्रह इस प्रदूषण के चलते बेहाल हो रहा है इस पर भी लोगों का ध्यान खींचा जाता है वह इस समस्या के हल पर चिंतन किया जाता है। इसके साथ ही साथ सरकार द्वारा गाइडलाइन भी जारी की जाती है जिसमें मानव अपने पर्यावरण को कैसे बचा सकता है इस पर विस्तार में विवरण दिया रहता है।

विश्व पर्यावरण दिवस को सफल बनाने के उपाय

प्रत्येक वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस मनाना हमारा तभी सफल हो पाएगा जब हमारे पर्यावरण पर ऐसा कोई भी श्राप ना रहे जिससे कि वह विनाश की ओर बढ़े। इसके लिए हम सबको मिलकर पर्यावरण को संरक्षित करना पड़ेगा। यह हमारी पृथ्वी है और इसे हमें ही इसे बचाना है। तो यह हम पर और आप पर ही निर्भर करता है कि हम इससे किस तरह से पेश आते हैं।

पर्यावरण को बचाने के उपाय (Directions)

1- ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं। प्रतिदिन एक पेड़ लगाने का संकल्प करें।

2- अपने आसपास साफ सफाई रखें। स्वच्छ भारत अभियान का हिस्सा बने।

3-  प्लास्टिक को ना कहें। प्लास्टिक के इस्तेमाल को रोकने का प्रयास करें।

4- AC का उपयोग कम से कम करें क्योंकि इससे हमारे पृथ्वी का तापमान बहुत तेजी से बढ़ता है।

5- ज्यादा से ज्यादा वाहन के इस्तेमाल को रोके। पैदल चलने की आदत डालें।

6- नदियों में कूड़ा-कचरा ना फेंके। गंगा हमारी माता है तो उनमें कृपा करके फूल चढ़ावा चढ़ा कर श्रद्धा व्यक्त ना करें।

7- मांस, मुर्गा व जंगली जानवरों का सेवन बिल्कुल भी ना करें।

8- गाय हमारी माता है और एक बहुत ही पवित्र पशु है तो गौ हत्या का विरोध करें।

9- ना गंदगी फैलाएं और दूसरों को भी गंदगी फैलाने से रोके।

10- जल को प्रदूषित ना करें। बारिश के जल को भी संरक्षित करने का प्रयास करें।

निष्कर्ष (Conclusion)

पर्यावरण स्वस्थ है तो हम स्वस्थ हैं, हम स्वस्थ हैं तो देश स्वस्थ है और यदि प्रत्येक देश स्वस्थ है तो पूरी पृथ्वी ही स्वस्थ है। इसलिए आज इस पर्यावरण दिवस के उपलक्ष पर हम आपसे विनती करते हैं कि अपनी तरफ से पर्यावरण रक्षा करें और लोगों को भी करने के लिए प्रेरित करें इसी में हम सब की भलाई है।

तो दोस्तों आज हमने इस लेख में विश्व पर्यावरण दिवस पर निबंध (world environment day essay in hindi 2021) के बारे में पढ़ा। यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों रिश्तेदारों व सगे-संबंधियों में भी अवश्य शेयर करें ताकि उन्हें भी इस जानकारी का लाभ मिले। तो मिलते हैं हमारे दूसरे आर्टिकल में तब तक स्वस्थ रहें मस्त रहें।

FAQ

Q 1- विश्व पर्यावरण दिवस कब मनाया जाता है?

Ans-1 05 जून

Q2- विश्व पर्यावरण दिवस 2021 की थीम क्या है?

Ans-2 इकोसिस्टम रीस्टोरेशन।

Q3- पर्यावरण को न बचाने के क्या नुकसान है?

Ans-3 पर्यावरण को प्रदूषित करके हम अपने जीवन को ही विनाश की ओर ले कर जा रहे हैं। प्राकृतिक आपदाएं चुटकी भर में मनुष्य का सर्वनाश कर देती हैं।

Q4- अपने पर्यावरण को कैसे बचाएं?

Ans-4 1- अत्यधिक पेड़ लगाएं।
2- प्लास्टिक का इस्तेमाल रोके।
3- साफ सफाई रखें।
4- जल संरक्षण करे।
5- वाहनों काकम इस्तेमाल करें।

Q5- जहां पर निवास कर रहे हैं वहां का तापमान तुरंत कैसे जाने?

Ans-5 अपने आसपास का तापमान तुरंत जानने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक कर सकते हैं।
click here

सम्बंधित जानकारी

15 thoughts on “विश्व पर्यावरण दिवस पर निबंध | world environment day essay in hindi 2021”

  1. बहुत बढ़िया लेख इसे पढ़कर एक अनुभव मिला की हम अपने विद्यार्थी को ईसे ही पढाय जी धन्यवाद Studybhaiya

    Reply
  2. वाह गुड़िया, साबास
    पर्यावरण के ऊपर, बहुत अच्छा निबंध लिखा है. उम्मीद करता हूं इस पोस्ट के माध्यम से लोगो मे पर्यावरण के प्रति जागरूकता फैलेगी. 😊

    Reply

Leave a Comment