Essay

[2022] अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर निबंध| Essay on international yoga day in hindi

आज की लेख में हम अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर निबंध 2021 पढ़ेंगे। सबसे पहले हमें यह जानना चाहिए कि योग क्या है और इसके क्या फायदे हैं। हमे योग अवश्य करना चाहिए इससे हमारे स्वास्थ्य मे सुधार होता है और हमारा मन चिंता मुक्त होता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत की थी। योग से हमारा मन शांत होता है, दिमाग तेज़ होता है, और दिल भी स्वस्थ रहता है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर निबंध class 4,5,6,7,8,9, to 12 सभी स्कूल के बच्चो के लिए ही नहीं अपितु कंपीटिटिव स्टूडेंट्स और UPSC की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों के लिए भी होगा। तो चलिए शुरू करते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय आज की लेख में हम अंतर्राष्ट्रीय दिवस पर निबंध 2022 पढ़ेंगे। सबसे पहले हमें यह जानना चाहिए कि योग क्या है और इसके क्या फायदे हैं। हमे योग अवश्य करना चाहिए इससे हमारे स्वास्थ्य मे सुधार होता है और हमारा मन चिंता मुक्त होता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत की थी। योग से हमारा मन शांत होता है, दिमाग तेज़ होता है, और दिल भी स्वस्थ रहता है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर निबंध class 4,5,6,7,8,9, to 12 सभी स्कूल के बच्चो के लिए ही नहीं अपितु कंपीटिटिव स्टूडेंट्स और UPSC की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों के लिए भी होगा। तो चलिए शुरू करते हैं।

प्रस्तावना (Introduction)

योग हमारे शरीर को मस्तिष्क के साथ संतुलित कर के प्रकृति के साथ जीवन जीने में काफी मददगार है। योग भी एक व्यायाम का ही प्रकार है। योग करने से हमारे शरीर को ही नहीं अपितु मस्तिष्क को भी लाभ होता है। मानसिक सुख की अनुभूति होती है। योग आज कल हर कोई करता है। चाहे वो बुजुर्ग हों या नौजवान सभी मे योग के प्रति जुड़ाव है। योग से ही हमारे अंदर की कई सारी बीमारियां छू मंतर हो जाती है।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर निबंध,
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर निबंध

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कब और किस दिन मनाया जाता है ?

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस हर साल जून के महीने में बनाया जाता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी जी ने 21 जून को सबसे पहले योग दिवस के लिए आवाज़ उठाई थी। बुजुर्गों द्वारा दिए गए इस अमूल्य उपहार को रोशनी देने के लिए मोदी जी ने 2015 में 21 जून के ही दिन योग दिवस मनाने के लिए प्रस्ताव रखा था।

इसे भी पढ़े – योगा से होने वाले 10 अद्भुत फायदे

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2022 (Theme)

प्रत्येक वर्ष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए एक विशिष्ट टीम का चयन किया जाता है और उसी के अनुसार सभी व्यक्ति द्वारा कार्यक्रम किए जाते हैं। परंतु इस बार इसके लिए कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं किया जा रहा है। हर कोई अपने घर में रहकर ही योग दिवस मनाएगा। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2021 के लिए ‘Yoga For Wellness’ रखा गया है जिस का हिंदी में अर्थ है की ऐसे कोरोनावायरस के काल में योग को अपनाएं और बेहतरी की तरफ बढे। जैसे ही 2022 की थीम पता चलेगी हम आपको यहां अपडेट कर देंगे।

योग की उत्पत्ति (Origin)

माना जाता है की पौराणिक युगों से ही योग की उत्पत्ति हुई है भगवान शिव जो देवी के देव महादेव है उन्हीं के द्वारा उनके आदि योगी स्वरूप में द्वापर युग से ही इस योग की शुरुआत हुई थी। दुनिया में जितने भी योग गुरु, ऋषि जी हैं वह सभी आदि योगी को अपने गुरु के रूप में मानते हैं। पौराणिक कथाओं में इस चीज का वर्णन साफ दर्शाया गया है कि भगवान शिव के द्वारा ही हजारों लाखों साल पहले इसकी शुरुआत हो गई थी।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है? (Why)

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 21 जून का दिन इसलिए चुना था क्युकी उत्तरी गोलार्ध में 21 जून का दिन साल का सबसे बड़ा दिन है। इसके अलावा महत्वपूर्ण बात ये है कि इस संक्रमण काल के दौरान स्वयं महादेव ने इस कला के बारे में ज्ञान साझा किया था और आध्यात्मिक गुरुओ को चकित किया था। इन सभी बिंदुओं को संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) ने भली भांति समझा और 21 जून के दिन योग दिवस को मनाने की मान्यता दी।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कैसे मनाया जाता है? (How)

21 जून के दिन देश के विभिन्न क्षेत्रों में बड़े व छोटे शिविर लगाए जाते हैं और इसे मानने के लिए समारोह भी आयोजन किया जाता है। इस पवित्र कला का अभ्यास करने केव बुजुर्ग ही नहीं अपितु बच्चे व सज्जन लोग भी आते है व भाग भी लेते हैं। ये आयोजन केवल भारत में ही नहीं बल्कि पूरे देश के विभिन्न जगहों पर मनाया जाता है।

योग के प्रकार (Types)

भगवत गीता में योग को तीन प्रकार का बताया गया है।

1-कर्म योग
2-भक्ति योग
3-ज्ञान योग

• कर्म योग

कर्मयोग में व्यक्ति अपने अंदर सच्ची श्रद्धा के साथ अपने कार्य का निर्वाहन करता है।

• भक्ति योग

भक्ति योग में व्यक्ति अपने अंदर भगवान के प्रति सच्ची श्रद्धा रखता है उनका कीर्तन करता है व उन्हीं का अनुसरण करते हुए भक्ति करता है। जैसे भगवान मारुतिनंदन ने श्री राम भगवान की भक्ति की थी।

• ज्ञान योग

ज्ञान योग से तात्पर्य है कि जिसमें व्यक्ति ज्ञान अर्जित करता है।

योग करने के फायदे (Benefits of Yoga)

योग करने के तो वैसे बहुत फायदे पर हम आपको चार प्रमुख फायदों के बारे में बताएंगे। नीचे दी गई बिंदुओं को ध्यान से पढे।

• योग करने से हमारे मन को शांति की अनुभूति होती है और हमारा मन ताजा व शक्तिशाली महसूस करता है। जिससे हम अपना मन किसी भी काम में बड़ी आसानी से लगा सकते हैं। दिमाग शांत रहता है तो हम मुश्किल से मुश्किल काम भी बड़ी आसानी से कर सकते हैं।

• योग से इंसान का शरीर भी फुर्तीला महसूस करता है। किसी भी काम को करने के लिए उसे केवल ध्यान केंद्रित करना है और वो कर काम कर लेता है।

• योग से दिल भी स्वस्थ रहता है। हमे हार्ट की परेशानी की भी समस्या नहीं होती है।

• योग कष्ट को हरता है। जिससे हमारे अंदर के कस्ट ही नहीं अपितु ना ना प्रकार की बीमारियों का भी अंत होता है। हर एक व्यक्ति को स्वस्थ रहने के लिए योग करना ही चाहिए।

उपसंहार (Conclusion)

आज के इस लेख में हमने आपको अंतरराष्ट्रीय योगा दिवस पर निबंध 2022 के बारे में पूरी जानकारी दी है हम आशा करते हैं कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा अगर पसंद आया हो तो आप भी योग दिवस के दिन अपने आस-पड़ोस किसी भी समारोह में भाग अवश्य लें और इस जानकारी को अपने दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ अवश्य साझा करें.

FAQs

Q1-अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कब मनाया जाता है?

Ans- 21 जून ।

Q2- अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का उद्देश्य क्या है?

Ans- मनुष्य को योग का महत्व समझाना।

Q3- अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने की पहल किसने की?

Ans- प्रधानमंत्री श्री मोदी जी ने।

Q4- अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम क्या है

Ans- Yoga For Wellness.

Q5- इंसान के जीवन में योगा का महत्व क्या है?

Ans- • रोगों से मुक्त रहता है।
• मनोबल मजबूत रहता है।
• शरीर स्वस्थ रहता है।
• एकाग्रता बढ़ती है।
• सकारात्मक विचार पैदा होते हैं।

आपने इसे पढ़ा-

पृथ्वी दिवस पर निबंध

ब्लैक फंगस पर निबंध

हेमिस त्योहार पर निबंध

पर्यावरण पर लॉकडाउन के प्रभाव

Related Articles

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close
Back to top button