पढ़ाई मे ध्यान कैसे लगाए 2021 | How to concentrate on study in hindi

यही बात आजकल सबकी जुबान पर है इसलिए आज हम आपको बेस्ट टिप्स बताएंगे जोकि आपको निसंदेह मदद करेंगे। तो चलिए शुरू करते हैं-
हमे बचपन से ही एक ही बात पढ़ाई मे ध्यान कैसे लगाए कही जाती है की बेटा पढो, नही तो आगे नौकरी नही मिल पाएगी। पढ़ाई के बिना कुछ भी नही पा सकोगे। यह सब सुन कर हम सब लोग पढ़ाई मे लग जाते है। हम पढ़ाई  करने भी लग जाते हैं कुछ दिन तक अच्छे से करते भी हैं और जैसे ही कुछ हफ्ते बीतते हैं हमारा इंटरेस्ट अपने आप ही कम हो जाता है पता नहीं ऐसा क्यों होता है कि हम कितना भी कोशिश कर ले हमारा मन पढ़ाई में लगता ही नहीं।
हर समय हमारे मन में एक ही सवाल घूमता है की पढ़ाई में मन कैसे लगाए और यह सवाल दिमाग में आना लाजमी भी है क्योंकि जब हर तरफ पढ़ाई का बोलबाला है तो ऐसा सवाल दिमाग में आएगा ही।

 

Table of Contents Close
 
Padhai me man kaise lagaye


इसे भी पढ़ें: पढ़ाई हमारे लिए क्यों अत्यंत जरूरी है?

पढ़ाई मे ध्यान कैसे लगाए (अहम सवाल) 

हमारी पढ़ाई की शुरुआत तो 3 साल की उम्र से ही शुरू हो जाती है हमें घर में लोग पहले थोड़ा-थोड़ा पढ़ाते हैं उसके बाद फिर हम स्कूल जाने लगते हैं वहां और चीजें सीखते और पढ़ते हैं।
क्या आपने कभी गौर किया है? कि आप छोटे बच्चों को पढ़ाओ तो वह अक्सर मन से पढ़ते हैं परंतु बड़े बच्चों को पढ़ाओ तो वे अक्सर पढ़ाई से भागते हैं, ज्यादा गौर नहीं करते ऐसा क्यों?

पढाई मे मन कैसे लगाए (अहम जवाब) 

ऐसा इसलिए क्योंकि हम जैसे जैसे बड़े होते हैं हमारी लाइफ में बहुत सी चीजें जुड़ने लगती हैं जिसके चलते प्रेशर भी हम पर बढ़ता जाता है। आप एक बात अच्छे से जान लीजिए की प्रेशर में रहते हुए हम किसी चीज में मन नहीं लगता सकते।
जिस प्रकार एक छोटा बच्चा बिना किसी टेंशन के पढ़ता है, हमें भी उसी तरह पढ़ाई करनी है। हमें परीक्षा के परिणामों को सोच कर परेशान नहीं होना है, इसकी जगह हमें अपनी तरफ से अच्छा करना है फिर चाहे उसका परिणाम चाहे कुछ भी हो।

 पढ़ाई में ध्यान कैसे लगाए / How to concentrate on study in hindi

 पढ़ाई के महत्व को समझिए (Understand) 

 
हमें पढ़ाई में ध्यान लगाने के लिए जरूरी है कि हम उसकी अहमियत को समझें ऐसे हमें कोई कितना भी समझा ले हम तब तक नहीं पढ़ेंगे जब तक हम उसकी अहमियत स्वयं न जान ले। आप यह बात अच्छे से समझ लीजिए कि बिना पढ़े और बिना अध्ययन के किसी को कुछ भी नहीं मिलता। हमें सफल होने के लिए स्वयं लगातार मन लगाकर पढ़ाई करना पड़ेगा।

पढ़ाई के तरीके में बदलाव करें (Make Changes in Strategy of Study) 

पढ़ाई को एक ही तरह से करते करते हमें अक्सर बोरियत होने लगती है यही मुख्य कारण है जिससे हमारा पढ़ाई में फिर मन ही नहीं लगता।
इसलिए आप समय-समय पर अपने पढ़ाई के तरीके में बदलाव करें। जैसे अगर आप बोल-बोल कर पढ़ते हैं तो लिखने की आदत डालें। लिखने से आपको पढ़ी हुई चीज है ज्यादा समझ में आएंगे जिससे आपका मन भी पढ़ाई में निसन्देह लगा रहेगा।

 पढ़ाई के वातावरण को ठीक करें (Improve) 

शांत वातावरण पढ़ाई की प्रक्रिया में बहुत महत्व रखता है। पढ़ाई में मन ना लगने के पीछे वातावरण का बहुत बड़ा हाथ होता है। इसलिए पढ़ाई एकदम शांत जगह पर करें। शोर-शराबे, ध्यान भटकने वाली चीजों को पढ़ते समय दूर ही रखें खासकर के मोबाइल फोन को। पढ़ाई करने के लिए जरूरी है शांत जगह जहां आपकी किताबे रखने की जगह हो और आप वहां आसानी से एकाग्र मन से पढ़ाई कर सकें।

सोशल मीडिया का इस्तेमाल कम करें (Limited use of Social Media) 

हम लोगों में से बहुतों के साथ होता है कि हमारा पढ़ाई करने का मन भी करता है और हम पढ़ाई करना भी चाहते हैं पर फिर भी हमारा मन नहीं लगता?
इसके पीछे एक कारण सोशल मीडिया भी है। सोशल मीडिया का अधिकतम प्रयोग करने से हमारा मन उसी की ओर खींचा जाता है जिससे हमारा मन पढ़ाई में नहीं लग पाता। इसलिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल कम से कम करें।

इसे भी पढ़ें:- पढ़ते समय distractions से कैसे बचे ?

जितना पढ़ें मन से पढ़ें (Study with Full Heart) 

अगर आपका मन नहीं लग रहा हो पढ़ने में तो आप निराश ना  होइए कुछ ना कुछ जरूर पढ़ें आप भले ही तोड़ा पढ़ें पर जितना पढ़ें मन से पढ़ें यकीन मानिए अगर आप रोजाना थोड़ी थोड़ी देर भी पढ़े तो 20 दिन बाद आपका मन अपने आप पढ़ाई में लगने लगेगा ऐसा इसलिए क्योंकि तब तक पढ़ाई आपकी दिनचर्या में शामिल हो चुकी रहेगी।
मनोवैज्ञानिक भी मानते हैं कि हम करीब 20 मिनट तक किसी चीज़ पे गहराई से ध्यान लगाते हैं तो उसमें हमारा मन अपने आप लगने लगता है और हमारा ध्यान भटकना काफी कम हो जाता है।
 
Padhai me man kaise lagaye

 

पढ़ाई को नियमित रूप से करें (Study regularly) 

जैसे हमने अभी-अभी जाना कि जितना पढ़ें मन से पढ़ें, इसी के साथ साथ आप रोजाना पढ़ें। हम अक्सर एक दिन पढ़ते हैं फिर 3 दिन नहीं पढ़ते, फिर 2 दिन पढ़ते हैं फिर नहीं पढ़ते, यह बिल्कुल गलत तरीका है ऐसे ही करने से हमारा पढ़ाई में मन नहीं लगता फिर हम घूम फिर कर यही सोचते हैं कि “पढ़ाई में ध्यान कैसे लगाए”।
इसलिए आप पढ़ाई नियमित रूप से करें और रोजाना अवश्य करें।


इस भी पढ़ें :- पढ़ाई को अच्छे से कैसे करें?

प्रेरणादायी चीजों को देखें Get inspirational things

जब पढ़ाई में मन ना लगे तो आप प्रेरणादायी चीजों को देखें और उनसे कुछ ना कुछ सीखने का प्रयास करें। पढ़ाई में मन ना लगे तो बिल्कुल निराश ना होह।
प्रेरणादाई चीजों को देखने और समझने से आप उनसे प्रभावित होंगे और पढ़ाई को मन लगाकर कर पाएंगे। रोज रात को सोने से पहले कुछ प्रेरणादाई देख कर सोए क्योंकि यह आपके दिमाग को सुचारू रूप से चलने में मदद करता है।
 

इसे भी पढ़ें:- बेहतर पढ़ाई के लिए अपने आप को मोटिवेट कैसे करें?

लक्ष्य निर्धारित करें Set Goals

मन लगाकर पढ़ाई करने के लिए जरूरी है कि हमारा लक्ष्य निर्धारित हो , बिना लक्ष्य निर्धारण के पढ़ना अंधेरे में तीर चलाने के समान है अर्थात बेकार है। इसलिए सबसे पहले अपना लक्ष्य निर्धारित करें, उसके बाद ही उसे प्राप्त करने के लिए रणनीति बनाए। उस रणनीति पर एकाग्र मन से मेहनत करें और लक्ष्य को हासिल करके ही दम ले।

मजेदार  तरीके  से पढ़ें Study in funny way

क्या आपने कभी गौर किया है? की जिस चीज में हमें मजा नहीं आता उसी चीज में हमारा मन भी नहीं लगता, ठीक उसी प्रकार हमें पढ़ाई में मन लगाने के लिए उसे मजेदार बनाना पड़ेगा।आप अपनी पढ़ाई को अपने निजी जीवन से जोड़कर पढ़ने का प्रयास करें। पढ़ाई को इंजॉय करें, उसे अपने ऊपर बोझ ना बनने दें ।

अधिक सोचना छोड़ दे Stop Overthinking

अधिक सोचने वाले केवल सोचते ही रह जाते हैं, वह कुछ कर नहीं पाते। इसलिए हमारे लिए जरूरी है कि हम कम सोचे और अच्छा सोचे। ज्यादा सोचने के बजाय कार्य करें ,पढ़ाई करें। जहां भी पढ़ाई में दिक्कत आती है,उस पर चिंतन करें और उसे हर हाल में हल करें।

पढ़ाई की शुरुआत मनपसंद विषय से करें Start study with favorite subject 

हम अक्सर अपने कमजोर विषय पढ़ना शुरू कर देते हैं और जब दिक्कतें आती हैं तो परेशान हो जाते हैं की पढ़ाई में मन नहीं लगता। इसलिए आप पढ़ाई की शुरुआत मनपसंद विषय से करें परंतु अपने कमजोर विषयों पर भी ध्यान दें उन पर मेहनत करें।

 आलस को त्याग दें  Stop Being Lazy

एक बात आप जान लीजिए की आलस करने वाले को जीवन में कुछ भी नहीं मिलता वह आलस में ही पूरी जिंदगी बिता देता है। आप आलस को अपने ऊपर कभी हावी ना होने दें, जब भी आलस आए एक बात मन में दोहराए है की “हमारे पास एक ही जीवन है और सब कुछ इसी में करना है” फिर देखेगा देखिएगा की अब जो भी चाहेंगे आसानी से कर पाएंगे।

Frequently Asked Questions (FAQ)

प्रश्न1: जब हम पढ़ने बैठते हैं तो हमारे दिमाग में बाहर की वस्तु दिमाग में चलने लगती है कंट्रोल कैसे करें?

उत्तर1: आप एकांत में पढ़ने बैठे और उस विषय को पढ़ें जिसमें आप रुचि रखते हैं उसके बाद ही अपने कमजोर विषयों को पढ़ें इससे आपका मन बाहर की वस्तुओं पर नहीं जाएगा।

प्रश्न2:- पढ़ते समय आलस आता है इसका उपाय बताएं?

उत्तर2: आप पढ़ाई शुरू करने के पहले ही भरपूर नींद लें और पढ़ाई थोड़ी-थोड़ी करें पहले इसे अपने नियम में लाएं उसके बाद ही आप अपने आलस से बच पाएंगे।

प्रश्न3: हम बहुत पढ़ना चाहते हैं पर क्या करें मन ही नहीं लगता?

उत्तर3: इसके लिए आप ऊपर की 12 टिप्स को फॉलो करें आपको जल्दी ही अच्छा परिणाम प्राप्त होगा।

प्रश्न4: पढ़ते समय चीजें याद नहीं होती और जल्दी भूल जाते हैं, क्या करें?

उत्तर4: आप थोड़ा पढ़ें और पढ़ने के बाद लिखें पड़ी हुई चीजों को दोहराएं उसके बाद ही अन्य चीजों पर जाएं पढ़ी हुई चीजों को लिखने की आदत डालें इससे आप चीजों को लंबे समय तक याद रख पाएंगे।

प्रश्न5: चीजों को सरलता से कैसे पढ़ें जिससे कि चीजें समझ में आसानी से आए?

उत्तर5: चीजों को सरलता से पढ़ने के लिए आप उसे अपने जीवन से जोड़ कर पढ़ें।जैसे आपको प्रधानमंत्री का नाम याद करना है तो आप इस तरह से याद कर सकते हैं कि मेरे चाचा का नाम नरेंद्र है और प्रधानमंत्री का नाम भी ,तो इस प्रकार से आप चीजों को बहुत ही आसानी से याद रख पाएंगे।

निष्कर्ष Conclusion:- 

आज हमने यह सीखा की की पढ़ाई में मन कैसे लगाए। हम आशा करते हैं की आपको आपके सवाल पढ़ाई में मन कैसे लगाए का उत्तर मिल गया होगा। यदि अभी आपको कोई दिक्कत हो तो आप हमसे बेझिझक कमेंट में पूछ सकते हैं जानकारी पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।
धन्यवाद।

14 thoughts on “पढ़ाई मे ध्यान कैसे लगाए 2021 | How to concentrate on study in hindi”

Leave a Comment